post
post
post
post
post
post
post
post
post
post

प्रयागराज में दूसरे दिन भी प्रदर्शनकारियों की 'अवैध संपत्तियों' पर चला बुलडोजर

Public Lokpal
June 12, 2022

प्रयागराज में दूसरे दिन भी प्रदर्शनकारियों की 'अवैध संपत्तियों' पर चला बुलडोजर


लखनऊ: पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ भाजपा नेताओं द्वारा की गई विवादास्पद टिप्पणी के विरोध में 10 जून को सड़कों पर उतरकर कथित रूप से हिंसा करने वाले प्रदर्शनकारियों के खिलाफ योगी सरकार की नाराजगी दिखी  है। प्रदर्शनकारियों की 'अवैध संपत्तियों' पर बुलडोजर चलाया गया। कानपुर और प्रयागराज में भी यह ऑपरेशन जारी है।

प्रयागराज में रविवार को बुलडोजर ने एक स्थानीय राजनेता का घर तोड़ दिया। वह पहले से ही पुलिस हिरासत में है।

सूत्रों के मुताबिक प्रयागराज के स्थानीय नेता जावेद मोहम्मद के घर का गेट और बाहरी दीवारों को गिरा दिया गया है। पुलिस ने जावेद मोहम्मद को विरोध प्रदर्शन और उसके बाद 10 जून को हुई हिंसा के पीछे मास्टरमाइंड होने का दावा किया। हालांकि जिस संपत्ति को ध्वस्त किया गया, वह जावेद की पत्नी परवीन फातिमा की है।

मकान के भूतल और पहली मंजिल पर अवैध निर्माण का दावा करने वाले जावेद के आवास के बाहर नोटिस लगाए जाने के कुछ ही घंटों बाद नगरपालिका एजेंसी द्वारा विध्वंस किया गया।

अधिकारियों ने आज तक जेके आशियाना कॉलोनी, करेली में स्थित घर को गिराने के लिए एक नोटिस पोस्ट किया। जावेद मोहम्मद वेलफेयर पार्टी ऑफ इंडिया के कार्यकर्ता हैं। विरोध प्रदर्शन के सिलसिले में उन्हें 11 जून को गिरफ्तार किया गया था। उनकी बेटी और छात्र कार्यकर्ता आफरीन फातिमा ने कहा है कि वह अपने पिता की सुरक्षा को लेकर बेहद चिंतित हैं। उसने यह भी कहा है कि पुलिस ने उसकी मां और छोटी बहन को हिरासत में लिया है।

गौरतलब है कि निलंबित भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की प्रवक्ता नुपुर शर्मा और निष्कासित नेता नवीन जिंदल द्वारा पैगंबर मुहम्मद पर विवादास्पद टिप्पणी को लेकर दिल्ली, उत्तर प्रदेश, झारखंड और पश्चिम बंगाल में विरोध प्रदर्शन हुए थे।

NEWS YOU CAN USE

Top Stories

post
post
post
post
post
post
post
post
post
post
post
post

Advertisement

Pandit Harishankar Foundation

Videos you like

Watch More