post
post
post
post
post
post
post

टेस्ला की इलेक्ट्रिक कारों के लिए फ़िलहाल अभी और करना होगा इंतज़ार

Public Lokpal
May 13, 2022

टेस्ला की इलेक्ट्रिक कारों के लिए फ़िलहाल अभी और करना होगा इंतज़ार


नई दिल्ली: टैरिफ पर गतिरोध के बाद टेस्ला इंक ने भारत में इलेक्ट्रिक कारों को बेचने की योजना पर रोक लगा दी है। टेस्ला ने कम आयात करों को हासिल करने में विफल रहने के बाद शोरूम की जगह की तलाश छोड़ दी है।

रॉयटर के मुताबिक यह निर्णय सरकार के प्रतिनिधियों के साथ गतिरोध के एक वर्ष से अधिक समय तक चलने के बाद आया है। टेस्ला ने संयुक्त राज्य अमेरिका और चीन में उत्पादन केंद्रों से आयातित इलेक्ट्रिक वाहनों (ईवी) को कम टैरिफ पर बेचकर पहले प्रतिक्रिया जांचने की मांग की थी।

लेकिन भारत सरकार टैरिफ कम करने से पहले टेस्ला को स्थानीय स्तर (आयातित वाहनों पर 100 फीसदी पर) विनिर्माण के लिए प्रतिबद्ध कर रही है।

टेस्ला ने 1 फरवरी की समय सीमा तय की थी।

जब प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने रियायत नहीं दी तो टेस्ला ने भारत में कारों के आयात की योजना को रोक दिया।

महीनों से, टेस्ला ने नई दिल्ली, मुंबई और बेंगलुरु के प्रमुख भारतीय शहरों में शोरूम और सर्विस सेंटर खोलने के लिए रियल एस्टेट विकल्पों की तलाश कर रही थी, लेकिन यह योजना भी अब होल्ड पर है।

हाल ही में जनवरी में, मुख्य कार्यकारी एलोन मस्क ने कहा था कि टेस्ला भारत में बिक्री के संबंध में "अभी भी सरकार के साथ बहुत सारी चुनौतियों का सामना कर रही है"।

वहीं मोदी ने "मेक इन इंडिया" अभियान के साथ निर्माताओं को लुभाने की कोशिश की है, लेकिन उनके परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने अप्रैल में कहा था कि टेस्ला के लिए चीन से भारत में कारों का आयात करना "अच्छा प्रस्ताव" नहीं होगा।

लेकिन नई दिल्ली ने जनवरी में तब जीत हासिल की, जब जर्मन लक्जरी कार निर्माता मर्सिडीज-बेंज ने कहा कि वह भारत में अपनी एक इलेक्ट्रिक कार को असेंबल करना शुरू कर देगी।

टेस्ला ने इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए भारत के छोटे लेकिन बढ़ते बाजार में शुरुआती लाभ हासिल करना चाहा था।भारत में इलेक्ट्रिक वाहनों के बाजार पर फ़िलहाल घरेलू वाहन निर्माता टाटा मोटर्स का प्रभुत्व है।

NEWS YOU CAN USE

Top Stories

post
post
post
post
post
post
post
post
post
post
post
post

Advertisement

Pandit Harishankar Foundation

Videos you like

Watch More