post
post
post
post
post
post
post

'आदेश की अवहेलना, काम की उपेक्षा' के लिए पद से हटाए गए यूपी के डीजीपी मुकुल गोयल

Public Lokpal
May 12, 2022

'आदेश की अवहेलना, काम की उपेक्षा' के लिए पद से हटाए गए यूपी के डीजीपी मुकुल गोयल


लखनऊ: उत्तर प्रदेश सरकार ने बुधवार को पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) मुकुल गोयल को 'आदेश की अवहेलना और काम की उपेक्षा' के आरोप में पद से हटा दिया है। रिपोर्टों के अनुसार मुकुल गोयल को नागरिक सुरक्षा विभाग का महानिदेशक (डीजी) नियुक्त किया गया है।

जारी बयान में आगे कहा गया है कि आदेश की अवहेलना करने, अपने आधिकारिक काम की उपेक्षा करने और विभागीय कार्यों में रुचि नहीं लेने के कारण मुकुल गोयल को डीजीपी के पद से हटा दिया गया है।

साथ ही यह निर्णय लिया गया है कि नए डीजीपी की नियुक्ति तक अतिरिक्त महानिदेशक (एडीजी), कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार उत्तर प्रदेश के कार्यवाहक डीजीपी होंगे।

सूत्रों के मुताबिक इस पद के लिए तीन नामों पर चर्चा हो रही है। डीजी इंटेलिजेंस डीएस चौहान और आरके विश्वकर्मा के साथ आनंद कुमार का नाम चर्चा में है।

गौरतलब है कि 1987 बैच के आईपीएस अधिकारी मुकुल गोयल को पिछले साल जून में उत्तर प्रदेश का पुलिस महानिदेशक नियुक्त किया गया था। इससे पहले गोयल सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) में तैनात थे।

उनके पास अभी भी लगभग दो साल का कार्यकाल शेष था और वह फरवरी के अंत 2024 में सेवानिवृत्त होने वाले थे।

मुकुल गोयल आजमगढ़ के एसपी और वाराणसी, गोरखपुर, सहारनपुर और मेरठ जिले के एसएसपी रह चुके हैं।

मुकुल गोयल कानपुर, आगरा, बरेली रेंज के डीआईजी और बरेली जोन के आईजी भी रह चुके हैं। इसके अलावा मुकुल गोयल केंद्र में आईटीबीपी, बीएसएफ, एनडीआरएफ में भी काम कर चुके हैं।

उत्तर प्रदेश के शामली जिले के रहने वाले मुकुल गोयल ने आईआईटी खड़गपुर से पढ़ाई की है।

NEWS YOU CAN USE

Top Stories

post
post
post
post
post
post
post
post
post
post
post
post

Advertisement

Pandit Harishankar Foundation

Videos you like

Watch More