post
post
post
post
post
post
post
post
post
post

कूच बिहार हिंसा: पीड़ितों के परिवार से मिलीं ममता , हत्या के जिम्मेदारों पर कार्रवाई करने का दिलाया भरोसा

Public Lokpal
April 14, 2021 | Updated: April 14, 2021

कूच बिहार हिंसा: पीड़ितों के परिवार से मिलीं ममता , हत्या के जिम्मेदारों पर कार्रवाई करने का दिलाया भरोसा


कोलकाता: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी बुधवार को कूचबिहार पहुंची जहाँ पिछले हफ्ते चौथे चरण के मतदान के दौरान हिंसा देखी गई, जिसमें सीआईएसएफ की गोलीबारी में पांच लोग मारे गए।

कूच बिहार के सीतलकुची में हुई मौतों से राज्य में राजनीतिक अस्थिरता बढ़ गई जिसमें राज्य में टीएमसी और बीजेपी ने हिंसा के लिए एक-दूसरे को जिम्मेदार ठहराया।

प्रदेश की निवर्तमान मुख्यमंत्री ने हिंसा में मारे गए एक भाजपा कार्यकर्ता सहित सभी पांच पीड़ितों के परिवार के सदस्यों से मिलने के लिए जिले का दौरा किया। पहले वह शोक संतप्त परिवारों से मिलने के लिए 11 अप्रैल को जिले का दौरा करने वाली थीं, लेकिन चुनाव आयोग द्वारा कूच बिहार में 72 घंटों के लिए राजनीतिक नेताओं के प्रवेश पर रोक लगाने के बाद उन्होंने अपनी योजना को स्थगित कर दिया।

मृतकों के परिवारों से मिलने के बाद एक रैली में बोलते हुए, उन्होंने कहा, "मैं सभी पांचों पीड़ितों के परिजनों से मिली। वे मेरे अपने परिवार की तरह हैं ... मैं बुलेट का जवाब बैलट से दूंगी"।

मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि कूच बिहार हत्याओं के लिए जिम्मेदार लोगों पर नज़र रखी जाएगी और उन्हें कानून के दायरे में लाया जाएगा।

बनर्जी ने रविवार को गोलीबारी की घटना को "नरसंहार" कहा, और दावा किया केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बलों (CISF) ने जानबूझकर लोगों के ''सीने या गर्दन में" गोली मारे।

उन्होंने सिलीगुड़ी में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा “यह एक नरसंहार है। उन्होंने गोलियों की बौछार की। वह पैर पर या घुटने के नीचे गोली मार सकते थे लेकिन उनकी हर गोली गर्दन या छाती पर चली“। उन्होंने कहा था कि सीआईएसएफ भीड़ को नियंत्रित करना नहीं जानती है, वे केवल औद्योगिक क्षेत्रों के लिए प्रशिक्षित होते हैं। 

बता दें कि ममता के इसी बयान की वजह से चुनाव आयोग ने उन्हें सोमवार रात 8 बजे से अगले दिन मंगलवार रात 8 बजे तक के लिए चुनाव प्रचार करने पर प्रतिबंध लगा दिया था।

Also Read | पश्चिम बंगाल के कूच बिहार में भड़की हिंसा, 5 मरे; चुनाव आयोग ने मांगी रिपोर्ट

Top Stories

post
post
post
post
post
post
post
post
post
post

Pandit Harishankar Foundation

Videos you like

Watch More