post
post
post
post
post
post
post
post
post
post

असम: भाजपा प्रत्याशी की कार में ईवीएम पाए जाने के बाद चुनाव आयोग की बड़ी कार्रवाई

Public Lokpal
April 02, 2021 | Updated: April 02, 2021

असम: भाजपा प्रत्याशी की कार में ईवीएम पाए जाने के बाद चुनाव आयोग की बड़ी कार्रवाई


राताबाड़ी: सोशल मीडिया पर एक वीडियो सामने आने के एक दिन बाद, जिसमें कथित तौर पर भाजपा के उम्मीदवार कृष्णेंदु पॉल की कार में ईवीएम मिला था, चुनाव आयोग ने असम में राताबाड़ी सीट के मतदान केंद्र 179 में पुनर्मतदान का आदेश दिया है। वहीं ईवीएम के परिवहन के लिए जिम्मेदार अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया है और आगे की पूछताछ चल रही है।

चुनाव आयोग ने घटना पर एक तथ्यात्मक रिपोर्ट भी जारी की। बताया कि “एलएसी 1 राताबाड़ी (एससी) के 149-इंदिरा एमवी स्कूल की पोलिंग पार्टी के साथ 1 अप्रैल, 2021 को एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना हो गई। मतदान दल में एक पीठासीन अधिकारी और 3 मतदान कर्मी शामिल थे। उनके साथ एक कॉन्स्टेबल और एक होमगार्ड भी शामिल था''।

चिट्ठी में, चुनाव आयोग ने आगे कहा, “रात के लगभग 9:20 बजे, पोलिंग पार्टी ने एक गुजरते हुए वाहन और उसके मालिक को बिना जांचे अपने ईवीएम और अन्य चीजों के साथ उसमें सवार हो गए। जैसा कि उनके द्वारा बताया गया था, वे करीमगंज जा रहे थे लेकिन जैसे ही वे रात 11:00 बजे करीमगंज, एक भीड़ के कारण उन्हें अपनी गाड़ी को धीमा करना पड़ा। जैसे ही वे धीमे हुए, वे लगभग 50 लोगों की भीड़ से घिर गए, जिन्होंने उन पर पथराव शुरू कर दिया। भीड़ ने उन्हें भी गाली देना शुरू कर दिया और वाहन को आगे नहीं जाने दिया''।

अधिकारियों ने “जब उन्होंने भीड़ के नेता से पूछा, तो उन्होंने कहा कि यह कृष्णेंदु पॉल का वाहन है, जो पथराखंडी के एक उम्मीदवार हैं थे और उन्होंने आरोप लगाया कि ईवीएम के साथ छेड़छाड़ की जा रही थी। जब अधिकारियों को किसी अनहोनी की आशंका हुई तो उन्होंने सेक्टर अधिकारी को सतर्क कर दिया। हालांकि, तब तक बड़ी भीड़ जमा हो गई थी और रात 9:45 बजे वाहन में ईवीएम पाए जाने के बाद  एक भीड़ द्वारा उन्हें हमला कर बंधक बना लिया गया और आरोप लगाया गया कि ईवीएम के साथ छेड़छाड़ की जा रही थी“।

उन्होंने कहा, “जांच में, ईवीएम में बीयू, सीयू और वीवीपीएटी बिना किसी नुकसान के अपनी सील के साथ पाए गए। सभी आइटम स्ट्रांग रूम में जमा किए गए हैं। ”

पत्र में लिखा गया गया है कि “पीठासीन अधिकारी को परिवहन प्रोटोकॉल के उल्लंघन के लिए कारण बताओ नोटिस जारी किया गया। पीठासीन अधिकारी के साथ 3 अन्य अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया। हालांकि, ईवीएम की सील बरकरार पाई गईं, एलएसी 1 राताबाड़ी (एससी) के नंबर 149- इंदिरा एमवी स्कूल में फिर से मतदान करने का निर्णय लिया गया है''।

गुरुवार को असम में दूसरे चरण के मतदान के बाद एक वीडियो सामने आया था। यह असम के पत्रकार अतनु भुयान द्वारा ट्वीट किया गया था, जिन्होंने उल्लेख किया कि घटना के बाद "पथराकंडी में स्थिति तनावपूर्ण है"।

इस घटना को लेकर भाजपा पर निशाना साधते हुए, कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने कहा कि चुनाव आयोग को इस तरह की शिकायतों पर निर्णायक कार्रवाई करनी चाहिए और सभी राष्ट्रीय दलों द्वारा ईवीएम के उपयोग का गंभीर पुनर्मूल्यांकन किए जाने की आवश्यकता है।

Top Stories

post
post
post
post
post
post
post
post
post
post

Pandit Harishankar Foundation

Videos you like

Watch More