post
post
post
post
post
post
post
post
post
post

नंदीग्राम बचाने में सफल रहे सुवेंदु अधिकारी, नहीं चला ममता का जादू

Public Lokpal
May 02, 2021

नंदीग्राम बचाने में सफल रहे सुवेंदु अधिकारी, नहीं चला ममता का जादू


कोलकाता: नंदीग्राम में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के उम्मीदवार सुवेंदु अधिकारी से 1,953 वोटों से एक करीबी मुकाबले में में तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की सुप्रीमो ममता बनर्जी हार गई हैं। जिसके बाद मतगणना के दौरान कथित धांधली की शिकायत करने के लिए तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के चुनाव आयोग और बाद में सुप्रीम कोर्ट का रुख कर सकती है।

पूरे दिन हार-जीत की उठापटक भरी ख़बरों के बाद वोटों की गिनती के आखिरी राउंड में ममता बनर्जी की हार घोषित कर दी गई।

इससे पहले एक प्रेस को सम्बोधित करते हुए ममता ने कहा था "मैं फैसले को स्वीकार करती हूं। लेकिन मैं अदालत का रुख करूंगी क्योंकि मुझे पता चला है कि परिणामों की घोषणा के बाद कुछ हेरफेर किए गए थे और मैं उन का खुलासा करूंगी।"

वहीं अब सवाल भी खड़ा हो गया है कि ममता की हार के बाद अब पश्चिम बंगाल का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा।

हालाँकि टीएमसी ने भले ही पश्चिम बंगाल में अपनी सत्ता कायम रखी, लेकिन ममता हार ने तकनीकी रूप से उन्हें विधान सभा के सदस्य के रूप में चुने जाने के लिए छह महीने का समय दिया। जिसके के लिए, उनकी पार्टी के एक विधायक को उपचुनाव के लिए अपनी सीट छोड़नी होगी। इस सीट को आमतौर पर एक सुरक्षित सीट माना जाता है जहां जीतने की संभावना काफी अधिक होती है। इसके साथ ममता को सीट से विजयी होने और 294 सदस्यीय पश्चिम बंगाल विधानसभा का सदस्य बनने का मौका मिलेगा।

ममता सोमवार शाम तक राज्यपाल जगदीप धनखड़ से मुलाकात कर अपनी सरकार बनाने का दावा पेश कर सकती हैं ।

Top Stories

post
post
post
post
post
post
post
post
post
post

Pandit Harishankar Foundation

Videos you like

Watch More